Sunday, 16 July 2017

राहुल गांधी का ट्वीटर वार मोदी से गुजरता हुआ योगी की तरफ

आज नये लेख के साथ लौटा हूं दोस्तों, आज लाख एक बार फिर से राहुल गांधी के ट्वीट पर है, आजकल राहुल गांधी मोदी सरकार को घेर रहे हैं और मोदीसरकार को घेरते हुये राहुल गांधी ने योगीसरकार को घेरा।


राहुल गांधी के आधिकारिक अकाउंट से 15जुलाई की शाम 7बजकर36मिनट पर एक ट्वीट आया जिसमे उन्होंने ने योगीसरकार के एक काफी घटिया फैसले को उठाया जिस फैसले के तहत शिक्षा बजट मे 90% की कटौती करदी।
राहुल गांधी के इस ट्वीट मे उन्होंने ने एक लिंक को शेयर करते हुये लिखा कि योगीसरकार को बचत करने के लिये अब सारे अस्पतालों को भी बंद कर देना चाहिए। ये कटाक्ष कर राहुल गांधी ने योगीसरकार को घेरा।


हम आपके सामने पिछले अखिलेश सरकार वित्तवर्ष के आंकडे रखेंगे। अखिलेश सरकार ने सैंकेंडरी शिक्षा के लिये 9990करोड का बजट रखा था जबकि योगीसरकार ने इस बजट मे जबरदस्त कटौती करते हुये इसको सिर्फ 576करोड कर दिया जो लगभग 95% बैठता है।
और उच्च शिक्षा के लिये अखिलेश सरकार ने 2772करोड का बजट रखा था लेकिन इस बजट को भी घटाते हुये योगीसरकार ने 272.77 करोड करदिया जोकि पिछले वर्ष की तुलना मे 90% कटौती है।


शिक्षा बजट मे हुई कटौती को राहुल गांधी ने एक शिक्षा विरोधी फैसला बताते हुये एक अलग ही कटाक्षीय लहजे मे ट्वीट किया कि योगीसरकार को बचत करने के लिये सब अस्पताल बंद कर देने चाहिए। ये कटाक्षीय लहजा योगीसरकार की पोल खोलने मे कामयाब रहा और योगीसरकार ने इस कटौती के साथ खुद को बैकफुट पर ला खडा कर दिया, क्यूंकि चुनावों के दौरान जो के वादे हुये थे ये कदम उनके उलट था और योगीसरकार ने किसी वादे को पूरा करने की साहस भी नही दिखाया। योगीसरकार को पहले ही बजट मे सभी वादों को पूरे करने की एक शुरूआत भर तो करनी चाहिए थी लेकिन योगीसरकार ने अपने वादों के प्रति कोई दिलचस्पी ना दिखाते हुये शिक्षा बजट मे कटौती करदी।


राहुल गांधी आजकल ट्वीटर पर आक्रामक लहजा अपनाये हुये हैं और राहुल गांधी एक नये अवतार मे नजर आ रहे हैं, राहुल गांधी जमीनीस्तर पर आक्रामक रवैया अपनाये हुये हैं।


धन्यवाद दोस्तो, मेरे ब्लॉग पढते रहें।



No comments:

Post a comment